search

Published 09-03-2023

जानिए कैसे पतंजलि से लिवर की समस्या को दूर करें

LIVER AND KIDNEYS

जानिए कैसे पतंजलि से लिवर की समस्या को दूर करें

Dr. Shivani Nautiyal

Dr. Shivani Nautiyal is a renowned Ayurvedic physician, Panchakarma therapies specialist, and detox expert who has made significant contributions to the field of natural holistic healing and wellness. With her profound knowledge, expertise, and compassionate approach, she has transformed the lives of countless individuals seeking holistic health solutions. She is a Panchakarma expert, which are ancient detoxification and rejuvenation techniques. She believes in the power of Ayurveda to restore balance and harmony to the body, mind, and spirit.

लिवर मानव शरीर का प्राकृतिक मल्टीटास्कर अंग है। यह विषाक्त पदार्थों (Toxins) को अपशिष्ट उत्पादों (waste product) में परिवर्तित करके, रक्त को साफ करके, पोषक तत्वों और दवाओं का शरीर में पाचन करके शरीर के फंडामेंटल रेगुलेटरी सिस्टम का हिस्सा बनाता है, और यह शरीर को सबसे महत्वपूर्ण प्रोटीनऔर पोषक तत्त्व प्रदान करता है। पूराने आयुर्वेदिक चिकित्सकों ने लीवर की बीमारी को रोकने और इलाज के लिए विभिन्न रणनीतियों को तैयार किया था। आयुर्वेद लिवर को पित्त की ऊर्जा के रूप में देखता है। और जब लिवर अपने काम को करने में असमर्थ होता है तो यह वात-पित्त-कफ दोषों के असंतुलन का कारण बनता है।

 

 लीवर की समस्या  -

क्योंकि लिवर पित्त दोष का मुख्य अंग है, इसलिए त्वचा की सूजन की समस्या Liver के ठीक से काम न करने का लक्षण हो सकता है। Liver पांच महाभूत से बना है जो पांच तत्व हैं: पृथ्वी, अग्नि, जल, वायु औरआकाश, प्रत्येक तत्व से जुड़े भोजन को पचाने में सहायता करता हैं | इन सभी कार्यों को पित्त द्वारा नियंत्रित किया जाता है, और यदि यह अपना संतुलन खो देता है, तो यह रक्त और त्वचा को प्रभावित कर सकता है और इसके परिणामस्वरूप सूजन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं जैसे कि त्वचा का फटना, मुंहासे, ठंडे घाव, सोरायसिस (Psoriasis) आदि । इसके अलावा, लीवर में जमा टोक्सिन से एलर्जी, हाइपरकोलेस्टेरेलिया, हाइपोग्लाइसीमिया, कब्ज, पाचन संबंधी समस्याएं या थकान हो सकती है। यदि असंतुलन लंबे समय तक जारी रहता है, तो हेपेटाइटिस, सिरोसिस, पीलिया और कैंसर सहित यकृत के गंभीर रोग विकसित हो सकते हैं।

 

 ये भी पढ़ें :  लिवर का रामबाण इलाज पतंजलि ।

 

पतंजलि में  लिवर की दवाई   -

 

1- पतंजलि दिव्य लिवामृत एडवांस टैबलेट

लिवर के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए लिवर को डिटॉक्सिफाई करने में मदद करता है। फैटी लीवर की बीमारी लीवर को बड़ा कर देती है जिससे पेट के ऊपरी दाहिने हिस्से में दर्द होता है। इन गोलियों में भूमि आंवला होता है जो अपने मूत्रवर्धक गुणों के कारण गुर्दे की पथरी बनने के जोखिम को कम करता है। इसमें भृंगराज भी होता है जो लिवर को हानिकारक रसायनों से बचाता है जो इसे नुकसान पहुंचा सकते हैं। ये गोलियां प्रतिरक्षा प्रणाली (Immunity) को बढ़ावा देती हैं और शरीर में भोजन के पाचन को बनाए रखने में मदद करती हैं। यह कोलेस्ट्रॉल को स्थिर करने और सूजन (सूजन) को दबाने में सहायता करता है। नियमित सेवन फैटी लिवर, हेपेटाइटिस, भूख न लगना और एनीमिया में मदद करता है।

 

मुख्य लाभ -

1- इस दवा में भूमि आंवला लीवर से संबंधित परेशानियों को ठीक करने में मदद करता है और हेपेटोप्रोटेक्टिव, एंटीऑक्सिडेंट और एंटीवायरल गुण लीवर को होने वाले किसी भी नुकसान को दूर करने में मदद करती हैं।

2- भूमि आंवला गैस्ट्रिक एसिड को कम करके और अत्यधिक गैस्ट्रिक एसिड के कारण होने वाले नुकसान से पेट की परत की रक्षा करके अल्सर को ठीक करने में मदद करता है

3- पुनर्नवा अर्क एंटीऑक्सीडेंट होती है, जो लिवर से संबंधित बीमारियों को ठीक करने में मदद करती है, और फ्री रेडिकल्स के कारण लीवर सेल की क्षति को रोकती है

4- पुनर्नर्व अपने दीपन (appetizer) गुण के कारण पाचन अग्नि को बनाए रखने में मदद करता है और नियमित सेवन से लीवर को साफ करने में मदद मिलती है

5- गिलोय एंटीऑक्सिडेंट एंजाइमों के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है |

 

मात्रा -

1- वयस्क: भोजन के बाद या चिकित्सक के निर्देशानुसार 2 गोलियां सुबह और शाम लें |

2- 7 साल से कम उम्र के बच्चे: आधी गोली दिन में दो बार या चिकित्सक के निर्देशानुसार लें |

 

 ये भी पढ़ें :  लिवर की बिमारियों का रामबाण इलाज ।

 

निष्कर्ष  : 

यदि किसी व्यक्ति का मेटाबॉलिज्म ठीक प्रकार से काम नहीं कर रहा है तो उस व्यक्ति को सही खानपान के बावजूद शरीर में ताकत महसूस नहीं होगी। दिव्य पतंजलि लिवामृत एडवांस शरीर के मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने के लिए सबसे उपयुक्त आयुर्वेदिक औषधि मानी जाती है। यह शरीर में मेटाबॉलिज्म की वृद्धि कर मनुष्य की थकान, कमजोरी और लिवर से जुडी सभी समस्याओं का निवारण करती है।

क्या आपको पता है की आयुर्वेद और यूनानी चिकित्का में डॉक्टर आपकी बीमारी का ही नही बल्कि आपकी बीमारी के होने के कारण और बीमारी के जड़ पर काम करता है जो बीमारी को जड़ से ख़त्म  करता है और आपको पूरी तरह से स्वस्थ करता है, तो फि देर किस बात की आज ही हमारे healthybazar के साइट पर आए और बहुत ही कम शुल्क में आयुर्वेदिक और यूनानी डॉक्टर्स से परामर्श ले, हमारे डॉक्टरों ने 500 से भी अधिक रोगियों को उचित और सफल इलाज दिया है जिससे कई मरीज़ और उन के घर वाले भी सुखी जीवन जी रहे हैं ।

 

 

Last Updated: Mar 9, 2023

Related Articles

Liver and Kidneys

लिवर का रामबाण इलाज पतंजलि ।

Liver and Kidneys , General

लिवर की बिमारियों का रामबाण इलाज ।

Related Products

Himalaya

Liv 52 Tab

0 star
(0)

Himalaya Liv 52 tablet acts as a supplement in improving appetite and digestion processes.

₹ 120

Baidyanath

Liverex Syrup

0 star
(0)

Useful in Jaundice, Hepatic and spleen enlargement, & ailments associated with the liver and also acts as an appetizer.

₹ 95

Dr Vaidya’s

Dr Vaidya’s Giloy Juice: For Liver Detox & Quick Recovery From Illnesses

0 star
(0)

₹ 280