search

Published 26-12-2022

प्रेगनेंसी में पेट दर्द हो तो डॉक्टर से कब मिले ?

PREGNANCY CARE

  प्रेगनेंसी में पेट दर्द हो तो डॉक्टर से कब मिले ?

Dr. Asfiya Najmi

A graduate from Hamdard University, Dr Asfiya is dedicated to providing natural treatments and comfort to every patient through her extensive knowledge and experience. In addition to medical practice, she has a passion for playing volleyball and chess.

प्रेगनेंसी में तीसरा महीना बड़ा मुश्किल भरा होता है, और इसमें नन्हे मेहमान का इंतज़ार भी रहता है, जो की कुछ ही हफ्तों में आपके साथ होगा तीसरी तिमाही के दौरान लोगो  को पेट  दर्द, नींद न आना  जैसे  कुछ लक्षणों  दिखाई देने लगते हैं। इसलिए आप के लिए जह जानना ज़रूरी है की यह प्रेगनेंसी में होने वाली सामान्य परेशानी है या आप को डॉक्टर की तुरंत ज़रुरत है, इस दौरान आपके शरीर के हर हिस्से में दर्द हो सकता है। आपकी पीठ से लेकर आपके कूल्हों से लेकर आपके पेट तक, कई महिलाएं यह समज नहीं   पाती की यह पेट में होने वाला दर्द पेट की परेशानी या कोई बीमारी से है यह गर्भावस्था में होने वाला दर्द है, तो इस ब्लॉग के ज़रिये हम आपकी  इस दुविधा को दूर करने की कोशिश करेंगे l

क्या गर्भावस्था में  पेट दर्द सामान्य है ? 

  • जी हाँ गर्भावस्था में पेट दर्द होना सामान्य है, जैसे शुरुआती  गर्भावस्था के दौरान  पेट में दर्द होना आम बात होती है, जब हार्मोनल बदलाव से मॉर्निंग सिकनेस की वजह से  मतली और उल्टी होती है, तो साथ में पेट दर्द  भी रहता है और यह सिलसिला लगभग दूसरी तिमाही के मध्य में, लगभग 20 सप्ताह में, हल्का पेट दर्द आमतौर पर चला रहता है।
  • तीसरी तिमाही में, पेट में दर्द फिर से होने  लगता है, क्योंकि गर्भाशय अपने वज़न से दूसरे शरीर के अंगो को दबाने लगता हैं । कुछ महिलाओं को यह महसूस होता है की उनका पेट खींच रहा है, लकिन अगर ज़्यादा दर्द हो , या हलकी ब्लीडिंग का अहसास हो या आपको अपना बच्चा घूमता हुआ न महसूस हो  तो डॉक्टर से तुरंत मिलना चाहिए l

तीसरी तिमाही में पेट में दर्द होना अधिक गंभीर समस्या का संकेत हो सकता है यदि :

  • पेट दर्द के साथ खुजली जैसे अन्य लक्षण दिखाई दे रहे हों l
  • अचानक या तेज़ से पेट में दर्द होना किसी एक ही जगह पे  
  • बुखार, मतली या उल्टी के साथ होना खतरे की निशानी है
  • योनि  से रक्तस्राव होना (Vaginal bleeding)

उपचार और घरेलू उपचार

प्रेगनेंसी में किसी भी तरह का घरेलु उपचार शुरू करने से पहले डॉक्टर की सलाह ज़रूर लें l क्यूंकि  प्रेगनेंसी में कैसी ऐसी चीज़े हैं जो खाना माना होता है क्यूंकि यह बच्चे के लिए नुक्सान देह हो सकता है, यदि आप को लगता है की पेट दर्द  खतरनाक नहीं है, तो गर्भावस्था के दौरान पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द को कम करने में मदद करने वाले कुछ घरेलू उपचारों में शामिल कर सकती है जैसे

  • अगर मांसपेशियों में दर्द और तनाव महसूस हो रहा है तो को कम करने के लिए स्ट्रेचिंग करें l
  • अम्लीय यानि खट्टी चीज़े  कम खाएं l
  • गैस  से निपटने के लिए  एंटासिड का उपयोग करके डॉक्टर की अनुमति से ही खाएं l
  • पेट के दर्द और सीने में जलन को कम करने के लिए कम मात्रा में और बार-बार भोजन करें l
  • पैरों  में तेल की हल्की मालिश करें l

डॉक्टर को कब दिखाना है l

पेट में या किसी भी तरह के असामान्य दर्द के लिए  डॉक्टर से सलाह लें । होने वाली माँ से उसके बदलते लक्षण और किसी गंभीर बदलाव के बारे में पूंछे , और नीचे दिए गए कोई भी लक्षण महसूस हो तो डॉक्टर तो दिखाएं

  • तेज़ दर्द होना पेट के ऊपर के हिस्से में , खासकर अगर यह दाहिनी ओर है
  • पेट में दर्द के साथ योनि से रक्तस्राव होना
  • पेट दर्द और बुखार
  • उच्च रक्तचाप के लक्षण, जैसे चक्कर आना, सांस लेने में कठिनाई, हो तो ध्यान दें
  • खराब सिरदर्द, या ज़्यादा  थकान महसूस होना
  • खुजली, त्वचा या आंखों का पीला पड़ना या उल्टी होना

सावधानियां/Precautions

तीसरी महीने  में पेट दर्द  को पूरी तरह से रोका नहीं जा सकता है। जैसे-जैसे भ्रूण बढ़ता है, उसके अंग बढ़ते है  तो माँ के शरीर पर बोझ बढ़ता है तो महिलाओं में पेट दर्द कमर दर्द जैसी शिकायत देखने को मिलती है । कुछ महिलाओं के लिए, हार्मोनल बदलाव की वजह से भी पेट दर्द या दुरी प्रेगनेंसी से जुडी कम्प्लीकेशन (Complications) हो सकती हैं । गर्भावस्था की गंभीर जटिलताओं को रोकने के लिए डिलीवरी से पहले यानि गर्भावस्था में जीवनशैली में बदलाव, और देखभाल बहुत ज़रूरी हैं । ज़्यादातर  महिलाओं के लिए, एक स्वस्थ और संतुलित खाना खाना , नियमित व्यायाम करना, और तनाव को दूर रखना, खुश रखना  प्रेगनेंसी और डिलीवरी को आसान बनता है और बच्चे के स्वस्थ के लिए भी अच्छा है । 

निष्कर्ष

गर्भावस्था में पेट दर्द होना सबसे आम  शिकायतों में से एक है। लकिन इसका मतलब यह नहीं है कि  इसे अनदेखा करना चाहिए।  इसलिए डॉक्टर से मिलने में संकोच न करें। अपने बड़ो से भी इस बारे बताएं और सलाह लें  यूनानी चिकित्सा और आयुर्वेदिक चिकित्सा को फॉलो करें क्यूंकि इसमें कम साइड इफेक्ट्स है और यह ज़्यादा असरदार होती है l अगर आप ज़्यादा जानकारी चाहते है तो  हम आपको हमारे एक्सपर्ट (expert) डॉक्टर्स से संपर्क करने की सलाह देते है www.healthybazar.com पर जाए और अपनी हर समस्या का समाधान नेचुरल (natural) तरीके और समस्या को जड़ से ख़तम करने का उपाए हमारे डॉक्टर्स से ले ।

Last Updated: Dec 27, 2022

Related Articles

Sexual Wellness

प्रेगनेंसी में कितने महीने तक संबंध बनाना चाहिए ।

Pregnancy Care

प्रेगनेंसी के नौ महीनों को इन तरीकों से बनाएं हेल्‍दी ।

Related Products

Dabur

Dabur Chyawanprash 2X Immunity

0 star
(0)

Dabur Chyawanprash boosts immunity to protect us against various diseases.

₹ 755

Dabur

Ekangveer Ras

0 star
(0)

Dabur Ekangveer Ras treats sciatica and nerve-related problems.

₹ 100

Dabur

Hajmola Pouch Reg

0 star
(0)

Dabur Hajmola Regular is a panacea of the digestive problems. It is used to get rid of acidity, flatulence, indigestion, and other digestive system problems.

₹ 152