search

Published 23-02-2023

जानिए आयुर्वेद के अनुसार आप कैसे रह सकते हैं पूरी तरह स्वस्थ ।

LIFESTYLE DISEASES, GENERAL

जानिए आयुर्वेद के अनुसार आप कैसे रह सकते हैं पूरी तरह स्वस्थ ।

Sonal Rani

Sonal is a creative content writer focussed specially on the preventive health & lifestyle topics, with experience in social media marketing having strong research and publishing skills. She is adept at driving the creation of meaningful and unique content for a wide range of media platforms and customers. She excels at creative, critical, and analytical thinking. On a personal front, she is a big foodie (ofcourse healthy) and a fun person!

आयुर्वेद जीवन जीने का तरीका है। हमारा शरीर स्वस्थ्य रहे इसके लिए हमें जरूरी और सही आहार, योग, डिटॉक्सिफिकेशन, हर्बल उपचार, मेडिटेशन और बेहतर जीवनशैली पर ध्यान देना चाहिए। आयुर्वेद आप के जीवन को स्वस्थ और संतुलित बनाने में मदद करता हैं । आयुर्वेद एक प्राचीन और व्यापक चिकित्सा विधि है जो शरीर, मन और आत्मा को संतुलित रखने के लिए सलाह देती है। यह एक पूर्णतः स्वस्थ जीवन जीने के लिए उपयोगी हो सकता है।

 

व्यक्ति को तब स्वस्थ माना जाता है जब उनके शरीर में तीन प्रमुख शारीरिक फैक्टर्स  का संतुलन होता है - दोषों का संतुलन, अग्नि (Digestion), धातु (Tissue) और मल (Faecal Matters)। साथ ही, एक खुशहाल अवस्था में व्यक्ति को स्वस्थ माना जाता है, जिसमें आत्मा, इंद्रिया (इंद्रिय अंग) और मानस (मन) का संतुलन होता है।

 

निम्नलिखित आयुर्वेदिक उपाय आपको स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं ।

 

दिनचर्या ँ: आयुर्वेद में दिनचर्या बहुत महत्वपूर्ण मानी जाती है। समय पर उठें, नियमित व्यायाम करें, समय पर भोजन करें और समय पर सोएं।

आहार: आहार आपके शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है। आपको संतुलित आहार लेना चाहिए जो आपके शरीर के लिए उपयोगी होता है। आहार में फल, सब्जी, अनाज और प्राकृतिक खाद्य पदार्थ शामिल होने चाहिए।

व्यायाम: आयुर्वेद में व्यायाम का अहम महत्व होता है। व्यायाम शरीर को स्वस्थ बनाने में मदद करता है और स्त्रेस कम करने में भी मदद करता है। योग, ध्यान और प्राणायाम भी आयुर्वेद में महत्वपूर्ण माने जाते हैं।

विश्राम: शरीर के लिए अच्छी नींद बहुत जरूरी हैं।

 

 यह भी पढ़ें:  विटमिन-डी के काम होने के लक्षण, कारण, नुकसान एवं बढ़ाने के उपाय ।

 

 इन बातो का भी रखें ख़्याल :- 

 

1. शरीर से विषाक्त पदार्थों को (Toxins) बाहर निकाले ।

 

आयुर्वेद कहता है कि हमारे शरीर में विभिन्न प्रकार के टॉक्सिन्स

हैं जिन्हें निकालने की आवश्यकता है, और अमा सबसे आम विष है। आम हमारे शरीर में एक अपशिष्ट निर्माण है, जिसे अगर समय पर नहीं हटाया गया, तो यह हमारे शरीर को बीमारी और नुकसान पहुंचा सकता है। भारत में कई आयुर्वेद और वेलनेस रिट्रीट हैं जो उपचार प्रदान करते हैं जैसे; पंचकर्म चिकित्सा, मिट्टी चिकित्सा, एक्यूपंक्चर, शिरोधारा उपचार, आदि।Healthybazar एक ऐसा आयुर्वेदिक चिकित्सा केंद्र है जो शरीर, मन और आत्मा को स्वस्थ रखने में मदद करता है। वे सभी प्राकृतिक उपचार प्रदान करते हैं जो आपके शरीर, मन और आत्मा को फिर से जीवंत कर सकते हैं।

 

2 .  रोग प्रतिरोधक क्षमता और संतुलन को बेहतर बनाए ।

 

बेहतर प्रतिरक्षा और संतुलन के लिए आपको अपने शरीर के तीनों दोषों को संतुलित रखना आवश्यक है: वात, पित्त, और कफ। आयुर्वेद के अनुसार, जब ये तीनों दोष संतुलित होते हैं, तब आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और आप स्वस्थ रहते हैं।

 

इसके लिए, आपको स्वस्थ आहार लेना चाहिए जो ताजा, पौष्टिक और सत्विक हो। व्यायाम, योग और ध्यान भी आपके शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं जो आपको संतुलित रखने में मदद करते हैं।

 

आयुर्वेद के अनुसार, स्वस्थ रहने के लिए आपको संतुलित दैनिक जीवन व्यवस्था बनानी चाहिए जो आपको अपने आहार, नींद, व्यायाम, मनोरंजन और ध्यान की अवधि के बारे में संतुलित रखती है।

 

3 . नशीले प्रदार्थो से दूर रहें ।

 

धूम्रपान, शराब, नशीली दवाएं और भारी भोजन आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक हो सकते हैं। धूम्रपान और शराब संबंधी उत्पादों में मौजूद निकोटीन और एल्कोहल आपके शरीर के विभिन्न हिस्सों को नुकसान पहुंचा सकते हैं। नशीली दवाएं आपके शरीर के विभिन्न संरचनात्मक और कार्यात्मक तंत्रों (Various structural and functional mechanisms) को प्रभावित कर सकती हैं जो आपके स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकते हैं। भारी भोजन आपको अधिक मोटापा और विभिन्न बीमारियों की ओर ले जाने की संभावना बढ़ा सकता है। इसलिए, आपको इन चीजों से दूर रहना चाहिए ताकि आप स्वस्थ रह सकें।

 

 

4 . तनाव और चिंता कम करें ।

 

तनाव और चिंता दोनों हमारी जीवन-शैली में सामान्य समस्याओं हैं। ये हमारे दैनिक जीवन के काम को असर करते हैं और हमारी मानसिक और शारीरिक सेहत पर बुरा प्रभाव डालते हैं। तनाव और चिंता कम करने के कुछ उपाय हैं जैसे:

 

योग और ध्यान: योग और ध्यान करना तनाव और चिंता को कम करने के लिए सबसे अच्छा तरीका है। योग और ध्यान करने से आपके मन को शांति मिलती है और आपके शरीर के रोगों से निजात मिलती है।

 

स्वस्थ आहार: स्वस्थ खानपान करना तनाव को कम करने में मदद कर सकता है। स्वस्थ आहार खाने से शरीर में सही पोषण प्राप्त होता है जो तनाव को कम करने में मदद करता है।

 

नींद का पूरा करना: नींद का पूरा करना भी तनाव और चिंता को कम करने में मदद करता है। नींद की कमी आपके मन और शरीर को तनावित करती है।

 

सक्रिय रहना: नियमित रूप से व्यायाम करना और नैचर में टाइम बिताना तनाव को कम करने में मदद करता है।

 

 यह भी पढ़ें:  पेट में इंफेक्शन के दौरान इन चीजों से करें परहेज, बढ़ सकती है समस्या।

 

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए विभिन्न व्यायामों का उपयोग किया जा सकता है। इनमें से कुछ महत्वपूर्ण व्यायाम निम्नलिखित हैं:

 

1. चलना: यह एक सरल व्यायाम है जो शरीर के सभी भागों को एक साथ काम करने के लिए प्रेरित करता है। यह हृदय और फेफड़ों के लिए बहुत अच्छा होता है और लंबे समय तक बैठे रहने से होने वाली कमर दर्द को भी दूर करता है।

 

 

 2. जम्पिंग जैक्स: यह शरीर को एक अच्छा कार्डियो व्यायाम प्रदान करता है और मांसपेशियों को ताकतवर बनाता है। इस व्यायाम को रोजाना कम से कम 10 मिनट के लिए करने से शरीर में एनर्जी फील होती है और दिल की सेहत भी सुधरती है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 3. स्क्वाट: स्क्वाट (Squats) एक बढ़िया लोअर बॉडी व्यायाम है जो जांघों, बैक, गुदा और कमर को मजबूत बनाता है। इस व्यायाम को नियमित रूप से करने से शरीर में स्ट्रेंथ बढ़ती है और दर्द भी कम होता है।

 

 

 

 

 

निष्कर्ष:

 

आप अपने शरीर और मन को स्वस्थ रख सकते हैं। इस ब्लॉग में,  हमने अलग-अलग विषयों पर टिप्स दिए हैं जैसे आहार, व्यायाम, नींद, मानसिक स्वास्थ्य, योग, आयुर्वेद और तनाव कम करने के तरीके।

 

इस ब्लॉग में आपको यह बताया गया है कि कैसे आप स्वस्थ आहार खाते हुए अपने शरीर को स्वस्थ रख सकते हैं। इसके अलावा, आपको विभिन्न व्यायामों के बारे में भी बताया गया है जो आप अपने दैनिक जीवन में शामिल कर सकते हैं। अतिरिक्त वजन और शरीर के चर्बी (Fat) को कम करने के लिए भी कुछ उपयोगी टिप्स दिए गए हैं।

 

मानसिक स्वास्थ्य के बारे में भी इस ब्लॉग में चर्चा की गई है। यहां आपको बताया गया है कि कैसे आप तनाव को कम कर सकते हैं और चिंता को दूर कर सकते हैं। यहां आपको योग और ध्यान के फायदों के बारे में भी जानकारी मिलेगी। अगर आप ज़्यादा जानकारी चाहते है तो  हम आपको हमारे एक्सपर्ट (expert) डॉक्टर्स से संपर्क करने की सलाह देते है 

www.healthybazar.com

 पर जाए और अपनी हर समस्या का समाधान नेचुरल  तरीके और समस्या को जड़ से ख़तम करने का उपाए हमारे डॉक्टर्स से ले ।

Last Updated: Feb 28, 2023

Related Articles

Cough and Cold

आयुर्वेद द्वारा खाँसी का घरेलू इलाज।

Male Sexual Health

शुक्राणु की कमी का आयुर्वेदिक इलाज, उपचार और दवा ।

Stomach

पेट में सूजन का आयुर्वेदिक इलाज, उपचार और दवा

Related Products

Dabur

Ashwagandharishta Dabur

0 star
(0)

Dabur Ashwagandharishta is useful in nervous disorders, & improves memory.

₹ 205

Dabur

Madhuvaani

0 star
(0)

Dabur Madhuvaani is an Ayurvedic proprietary herbal cough syrup with benefits of honey, intended to provide relief in acute non-productive cough and throat irritation without causing drowsiness.

₹ 95

Richesm Healthcare

Liv Daily Multivitamin Softgel (30 Capsules)

0 star
(0)

Multivitamins with ginseng provide daily high energy.
• Release stress in daily lifestyle.
• Levo carnitine makes energy from your deposit body fats, help fat loss
• Antioxidant Supports.
• 1-2 soft gels daily.

₹ 508